50+ Barish Shayari In Hindi (2019) 🌧 || Romantic Barish Shayari

Spread the love

Presenting you all the Barish Shayari In Hindi (बारिश शायरी रोमांटिक इन हिंदी). Rainy season is on the way and rainy season is the time for love and romance. Send these Romantic Barish Shayari in Hindi to your loved ones to express your love. From this article, send these Romantic Barish Shayari which also contains Barish Ki Shayari, Pehli Barish Shayari and Barish Hindi Shayari’s for WhatsApp.

Copy these Barish Shayari In Hindi and send it on WhatsApp, Facebook, Instagram or any other social media platform.

Shayari On Barish

50+ Romantic Barish Shayari In Hindi

यह हुस्न ए मौसम ये बारिश ये हवाएं
लगता है मोहोब्बत ने आज किसी का साथ दिया है

shayari on baarish
shayari on baarish

चाहा था कि भीगें तेरी बारिश में हम मगर
अपने ही सुलगते हुए ख्वाबों में जले हैं

भला काग़ज़ की इतनी कश्तियाँ हम क्यों बनाते हैं,
न वो गलियाँ कहीं हैं अब न वो बारिश का पानी है

➡️➡️Have a look at these Baarish Shayari Images in Hindi ⬅️⬅️

स्याही का सा एक दाग है दिल में,
जो धुलता नहीं अश्कों की बरसात में भी

दर ओ दीवार पे शक्लें सी बनाने आई,
फिर ये बारिश मेरी तन्हाई चुराने आई

झिलमिलाते हुए अश्कों की लङी टूट गई
जगमगाती हुई बरसात ने दम तोड़ दिया

बादलों से कह दो,जरा सोच समझ के बरसे,
अगर हमें उसकी याद आ गई, तो मुकाबला बराबरी का होगा

रिमझिम तो है मगर सावन गायब है,
बच्चे तो हैं मगर बचपन गायब है.
क्या हो गयी है तासीर ज़माने की यारो
अपने तो हैं मगर अपनापन गायब है

जाने क्यूँ लोग हमें आज़माते है,
कुछ पल साथ रह कर भी दूर चले जाते है,
सच  ही कहा है कहने वाले ने,
सागर के मिलने के बाद लोग बारिश को भूल जाते है

Shayari On Barish
Shayari On Barish

कच्ची मिट्टी का बना होता है उम्मीदों का घर,
ढह जाता है हकीकत की बारिश में अक्सर

Barish Ki Shayari

 

भीगी मिट्टी की महक प्यास बढ़ा देती है
दर्द बरसात की बूँदों में बसा करता है

धूप ने गुज़ारिश की
एक बूँद बारिश की

दूर तक फैला हुआ पानी ही पानी हर तरफ़
अब के बादल ने बहुत की मेहरबानी हर तरफ़

अभी तो खुश्क़ है मौसम,बारिश हो तो सोचेंगे
हमें अपने अरमानों को,किस मिट्टी में बोना है

हम तो समझे थे कि बरसात में बरसेगी शराब
आई बरसात तो बरसात ने दिल तोड़ दिया

Barish Ki Shayari
Barish Ki Shayari

तमाम रात नहाया था शहर बारिश में
वो रंग उतर ही गए जो उतरने वाले थे

राईसों के वास्ते बारिश ख़ुशी की बात सहीं
मुफलिस की छत के लिये इम्तेहान होता है

एक ख्वाब ने आँखे खोली हैं, क्या मोड़ आया है कहानी में,
वो भीग रही थी बारिश में और आग लगी है पानी में

जब जब आता है यह बरसात का मौसम,
तेरी याद होती है साथ हरदम.
इस मौसम में नहीं करेंगे याद तुझे यह सोचा है हमने,
पर फिर सोचा की बारिश को कैसे रोक पाएंगे हम

इस बरसात में हम भीग जायेंगे,
दिल में तमन्ना के फूल खिल जायेंगे,
अगर दिल करे मिलने को तो याद करना बरसात बनकर बरस जायेंगे

Barish Shayari Romantic In Hindi

➡️➡️Click here to see the best Romantic Baarish Shayari for GF  ⬅️⬅️

बरसात का बादल तो दीवाना है क्या जाने
किस राह से बचना है किस छत को भिगोना है

सीने में समुन्दर के लावे सा सुलगता हूँ
मैं तेरी इनायत की बारिश को तरसता हूँ

Barish Shayari Romantic In Hindi
Barish Shayari Romantic In Hindi

बारिश के हर कतरे से आवाज़ तुम्हारी आती है

बरसात की भीगी रातों में फिर कोई सुहानी याद आई
कुछ अपना ज़माना याद आया कुछ उनकी जवानी याद आई

ग़म की बारिश ने भी तेरे नक़्श को धोया नहीं
तू ने मुझ को खो दिया पर मैं ने तुझे खोया नहीं

मासूम मोहब्बत का बस इतना फसाना है,
कागज़ की हवेली है बारिश का ज़माना है

मुझे मार ही ना डाले इन बादलों की साज़िश,
ये जब से बरस रहे हैं तुम याद आ रहे हो

एक हम हैं जो इश्क़ कि बारिश करते है,
एक वह हैं जो भीगने को तैयार ही नहीं

कुछ नशा तेरी बात का है
कुछ नशा धीमी बरसात का है
हमे तुम यूँही पागल मत समझो
यह दिल पर असर पहली मुलाकात का है

खुश नसीब होते हैं बादल,
जो दूर रहकर भी ज़मीन पर बरसते हैं,
और एक बदनसीब हम हैं,
जो एक ही दुनिया में रहकर भी मिलने को तरसते हैं

Romantic Barish Shayari

 

बरसात की एक शाम, अभी तक खिड़की पे बैठी है मेरी,
तू आये तो साथ आफ़ताब ले आना

पेडों की तरह हुस्न की बारिश में नहा लूं ,
बादल की तरह झूम के घिर आओ किसी दिन

Romantic Barish Shayari
Romantic Barish Shayari

सुना है बारिश में दुआ क़बूल होती है
अगर हो इज्जाजत तो मांग लू तुम्हे ?

मासूम मोहब्बत का बस इतना फसाना है,
कगाज़ की हवेली है बारिश का ज़माना है

बरसता, भीगता मौसम है कमज़ोरी मेरी लेकिन,
मैं ये रिमझिम, घटा, बादल तुम्हारे नाम करता हूँ

गुल तेरा रंग चुरा लाए हैं गुलज़ारों में
जल रहा हूँ भरी बरसात की बौछारो मे

पहले रिम-झिम फिर बरसात और अचानक कडी धूप,
मोहब्बत और अगस्त की फितरत एक सी है

खुद भी रोता है, मुझे भी रुला के जाता है,
ये बारिश का मौसम, उसकी याद दिला के जाता है

कितना अधूरा लगता है तब,
जब बादल हो पर बारिश ना हो,
जब जिंदगी हो पर प्यार ना हो,
जब आँखे हो पर ख्वाब ना हो,
और जब कोई अपना हो पर साथ ना हो

बेवजह अब ज़िन्दगी में प्यार के बीज न बोए कोई,
सभी मोहब्बत के पेड़ हमेशा ग़म की बारिश ही लाते है

Pehli Barish Shayari

 

शायद कोई ख्वाहिश रोती रहती है,
मेरे अन्दर बारिश होती रहती है

याद आई वो पहली बारिश
जब तुझे एक नज़र देखा था

घटा देख कर ख़ुश हुईं लड़कियाँ
छतों पर खिले फूल बरसात के

कच्ची दीवारों को पानी की लहर काट गई
पहली बारिश ही ने बरसात की ढाया है मुझे

Barish Hindi Shayari
Barish Hindi Shayari

मेरे दिल की जमीन बरसों से बंजर पडी है
मै तो आज भी बारिश का इन्तेजार कर रहा हूँ

और बाज़ार से क्या ले जाऊँ
पहली बारिश का मज़ा ले जाऊँ

 मजबूरियॉ ओढ़ के निकलता हूं घर से आजकल,
वरना शौक तो आज भी है बारिशों में भीगनें का

वाह मौसम आज तेरी अदा पर दिल खुश हो गया,
याद मुझको वो आई और बरस तू गया

क्या तमाशा लगा रखा है,
तूने ए-बारिश बरसना ही है , तो जम के बरस
वैसे भी इतनी रिमझिम तो मेरी आँखो से रोज हुआ करती है

गरजने वाले बदल कभी बरसते नहीं हैं

ए बादल इतना बरस के नफ़रतें धुल जायें…
इंसानियत तरस गयी है मुहब्बत के सैलाब को

Pehli Barish Shayari
Pehli Barish Shayari

➡️➡️Send these Romantic Baarish Shayari Images for BF in Hindi ⬅️⬅️

We hope that you have liked our collection of  Barish Shayari In Hindi. If you have some new quotes feel free to comment them down below.

Leave a Comment